Radhakishan Damani कैसे बने भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति?

Radhakishan Damani Life Story

यहां कहानी एक ऐसी व्यक्ति की जिसके पास एक समय पर खुद का घर तक नही था, उन्हें किराए के मकान में रहना पड़ता था। और आज अपनी मेहनत और लगन की वजह से आज यह भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन चुके है ।

तो चलिए आज हम आपको Radhakishan Damani की कहानी बताएंगे की केसे उन्होंने इतना सब कुछ हासिल किया।

Radhakishan Damani Success Story

राधाकिशन दमानी, मुकेश अंबानी के बाद भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए है, ये एक बिजनेस मैन और इन्वेस्टर है, और डी मार्ट के संस्थापक है, आज राधाकिशन दमानी भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति है।

राधाकिशन दमानी एक सरल और शर्मीले मिजाज के व्यक्ति है, साधारण जीवन जीते है, ज्यादा चर्चाओं में नहीं रहते हैं, वे हमेशा मीडिया से दूर रहते है, इनके इंटरव्यू आपने टीवी पर कभी नही देंखे होंगे, वे साधारण सफेद पेंट और सफेद शर्ट में रहते है इसलिए लोग इन्हें मिस्टर व्हाइट एंड व्हाइट के नाम से बुलाते है। राधाकिशन दमानी जी को Retail King के नाम से भी जानते है।

राधाकिशन दमानी का जन्म राजस्थान के बीकानेर शहर के मुंबई में रहने वाले मारवाड़ी परिवार में सन् 1954 में हुआ था। इनके पिता का नाम शिवकिशनजी दमानी है जो दलाल स्ट्रेट में काम करते थे।

राधाकिशन दमानी जी मुंबई यूनिवर्सिटी में बैचलर ऑफ़ कॉमर्स की पढ़ाई कर रहे थे लेकिन उन्होंने एक साल बाद पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी क्योंकि उन्हें खुद का बिजनेस शुरू करना था।

राधाकिशन दमानी कैरियर

कॉलेज से बीच‌ में ही पढ़ाई छोड़ने के बाद उन्होंने बोल्बरिंग बनाने के साथ अपने बिज़नेस कैरियर की शुरुवात की थी, उन्हे शुरूवात में स्टॉक मार्केट में कोई रूचि नहीं थी, बिजनेस सही से चल ही रहा था, की उनके पिता के आकस्मिक निधन के बाद राधाकिशन दमानी की आर्थिक स्थिति काफी बिगड़ गई, ओर उन्हे अपना बिजनेस बंद करना पड़ा, ओर किराए के घर में रहना पड़ा।

जिसके बाद उन्होंने स्टॉक मार्केट में काम करने का फैसला लिया, दमानी जी के बड़े भाई गोपीकिशन दमानी पहले से ही स्टॉक मार्केट में ब्रोकर के रूप में काम करते थे, इसलिए दमानी जी ने स्टॉक मार्केट में अपने भाई के साथ काम करना शुरू किया।

शुरुवात में स्टॉक मार्केट में उन्हे जरूर कठिनाई आई लेकिन कुछ साल स्टॉक मार्केट में काम करने के बाद उनका नाम भी भारत के टॉप स्टॉक मार्केट ब्रोकर के नाम में आने लगा।

दमानी जी को पता था कि अगर बडा बिजनेस मैन बनना है तो स्टॉक मार्केट ब्रोकर के साथ साथ इन्वेस्टर भी बनना पड़ेगा, 32 का उम्र में पहली बार दमानी जी ने अपनी इन्वेस्टमेंट की, सब लोगो की तरह दमानी जी को भी स्टॉक में थोड़ा नुकसान झेलना पड़ा लेकिन आगे लगातार सीखने के बाद दमानी जी का नाम भारत के टॉप इन्वेस्टर में नाम आने लगा।

दमानी जी 80 के दसक के सबसे बड़े स्टॉक मार्केट ब्रोकर मनु मानेक से काफी प्रभावित थे, मनु मानेक शेयर मार्केट में शॉर्ट सेलिंग करकर पैसे कमाता था, मनु मानेक के शॉर्ट सेलिंग का एक अलग ही तरीका था जिसे दमानी जी ने देखा ओर उनसे प्रभावित हो गए, ओर इस काम को सीखने के लिए दमानी जी ने मनु मानेक के साथ काम करना शुरू किया, ओर इन्होंने भी शॉर्ट सेलिंग से पैसे कमाना शुरु किया।

जिस तरह दमानी जी मनु मानेक को अपना गुरु मानते थे उसी तरह राकेश जुंजुनवाला भी दमानी जी को अपना गुरु मानते थे,आज राकेश जुनजुनवाला का नाम भारत के टॉप बिज़नेस मैन में आता है।

आपने SCAM 1992 तो देखी होगी, इस फिल्म में माहेश्वरी नाम कैरेक्टर है जिसका अभिनय परेश गणात्रा ने किया है, ये रोल राधाकिशन दमानी जी के उपर है, जिस तरह इस सीरीज में हर्षद मेहता की एंट्री हुई थी उसी प्रकार असल जिंदगी में हर्षद मेहता ने स्टॉक मार्केट में एंट्री ली, दमानी जी और मनु मानेक स्टॉक सेलिंग (स्टॉक को गिराकर, नीचे लाकर) करकर पैसे कमाते थे, ओर हर्षद मेहता सभी कंपनियों के स्टॉक को मेनुप्लेट करके स्टॉक को जमीन से आसमान तक पंहुचा देता था, इस वजह से दमानी जी और मनु मानेक का काफी नुकसान हो रहा था।

हर्षद मेहता और मनु मानेक, और दामानी जी के बिच में लड़ाई चलती थी, 1992 scam के बाद हर्षद मेहता को जेल हो गई, ओर दमानी जी का काम फिर से चलने लगा, थोड़े समय के बाद Scam में इनका भी नाम आने लगा, जिसके बाद इन्होंने स्टॉक मार्केट को पूरी तरह से छोड़ दिया ओर बिजनेस करने के बारे में सोचा।

दमानी जी को शुरू से ही Consumer Company स्टार्ट करने की चाह थी, वे अमेरिका की वालमार्ट कंपनी से काफी प्रभावित थे, इस बिजनेस के बारे में सीखने के लिए कई बार अमेरिका गए और वहां से जानकारी जुटाकर भारत आ गए और सन् 2002 मे ‘D-Mart’ कंपनी की शुरूवात की।

Radhakishan Damani Life Story

D-Mart की पहली शॉप मुंबई के पवई में खोली गई थी, जहां 2010 में 25 शॉप्स और आज 2021 में पूरे भारत के हर अलग-अलग राज्यों के अलग-अलग शहरो में अलग-अलग जगहों पर 276 शॉप्स है। डी मार्ट को ज्यादातर लोग डिस्काउंट की वजह से पसंद करते है, ये आपको मार्केट से सस्ते दाम पर आपको समान देते है। इसलिए लोग डी मार्ट से सामान खरीदना पसंद करते है।

आज ‘D-Mart’ भारत की सबसे बड़ी हाइपर मार्केट कंपनी में से एक बन गई है।

D Mart के अलावा इन्होंने कई सारे कंपनियों के स्टॉक खरीद रखे है, जिनकी कुल कीमत 8 हजार करोड़ रूपए है।

यह जरूर पढ़े –

Radhakishan Damani Family

राधाकिशन दमानी जी की पत्नी नाम कांतादेवी राधाकिशन दमानी है, इनकी तीन बेटियां है, मंजरी चांडक, ज्योति काबरा, और मधू चांडक।

मंजरी चांडक एवेन्यू सुपरमार्ट्स की डायरेक्टर है, और ज्योति काबरा एक Business Woman है।

Radhakishan Damani Net Worth

राधाकिशन दमानी जी ने अपने जीवन में कई उतार चढ़ाव देखे हैं और आज उनकी मेहनत की वजह से वे भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं उनकी कुल कमाई 1.40 लाख करोड़ रूपए के लगभग है।

राधाकिशन दमानी जी की कहानी हमे प्रेरित करती है की हालात कैसे भी हो हमे अपनी कोशिश जारी रखनी चाहिए, मेहनत के आगे मुश्किल से मुश्किल रास्ते पार किए जा सकते हैं।

यहां कहानी थी भारत के मारवाड़ी परिवार में पैदा हुए एक लड़के की जिन्होंने अपनी मेहनत और निष्ठा से वो करकर दिखाया जो आज कोई नहीं कर सकता।

Spread the love

Leave a Comment